Monday, 13 November 2017

अखिलेश ने बनाया बीजेपी सरकार को निशाना बोले रखते है जेब में अफीम की पुड़िया



अखिलेश यादव रविवार को एक विवाह समारोह में भाग लेने इटावा आए थे। इस दौरान उन्होने बीजेपी सरकार पर जमकर हमला बोला। यहां तक की अखिलेश ने बीजेपी के संकल्प पत्र को छल पत्र तक कह डाला।

 समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री  अखिलेश यादव ने  नगर निकाय चुनावों में भाजपा के संकल्प पत्र को छल पत्र बताया है। कहा कि निकाय चुनावों की  निष्पक्षता भंग करने की साजिश के तहत ही भाजपा ने एक बार फिर विधानसभा चुनावों के बाद ‘छल पत्र‘ जारी किया है। इस  संकल्पपत्र की कोई विश्वसनीयता नहीं  है।  भाजपा नेता अपनी जेब में ओपियम की पुड़िया रखते हैं ताकि जनता को अपने झूठ से मदहोश कर सकें। प्रदेश के मतदाता भूले नहीं है कि 8 महीने पहले विधानसभा चुनावों में भाजपा ने जो वादे किए थे उनमें से एक भी पूरा नहीं किया। भाजपा सरकार में हर तरफ अव्यवस्था और अराजकता फैली है।  श्री यादव एसएमजीआई के चेयरमैन विवेक यादव के भाई डा. विकास के विवाह समारोह में भाग लेने दिल्ली पब्लिक स्कूल में  पहुंचे थे। 





उन्होंने कहा कि शहरों में गंदगी कूड़े के ढ़ेर लगे हैं। बीमारियां फैल रही है। डेंगू से कितनी ही मौतें हो चुकी हैं । गोरखपुर में सैकड़ों बच्चों की मौतें हो चुकी है। दवा और आक्सीजन के बगैर अस्पतालों में मौतें हो रही हैं। भाजपा राज में कानून व्यवस्था पूरी तरह ध्वस्त है।  समाजवादी सरकार के समय अपराध की घटनाओं पर रोक लगी थी। आज दिन दहाड़े लूट अपहरण और बच्चियों तक से बलात्कार की घटनाएं हो रही हैं। लोग डरे-सहमें हैं।


अखिलेश ने  कहा कि केन्द्र और उत्तर प्रदेश में भाजपा की सरकारें हैं। इसके बावजूद गाजियाबाद, नोएडा, लखनऊ, धुंध और धुएं से ग्रस्त है। प्रदूषण का स्तर बढ़ जाने से लोगों की जान पर बन आई है। सांस लेना मुश्किल हो गया है।  भाजपा का चाल चरित्र कपटपूर्ण है।भाजपा नेताओं को जानना चाहिए कि काठ की हांडी बार-बार नहीं चढ़ती है। उनके झूठ और प्रपंच को जनता खूब पहचान गई है। इसे बर्दाश्त करने का उसका सब्र भी टूट गया है। भाजपा अब मतदाताओं की परीक्षा लेने का काम नहीं करे। जनता के सामने विकल्प है समाजवादी पार्टी जिसने जो वादा किया वह समय से पहले निभा दिया। समाजवादी सरकार का कार्यकाल बेदाग है और समाजवादी सरकार के नाम विकास के कई कीर्तिमान हैं। भाजपा जो कहती है, करती नहीं है।



अखिलेश यादव ने गुजरात चुनाव पर कहा कि हम ऐसी जगह चुनाव नहीं लड़ रहे हैं जहां कांग्रेस का नुकसान हो। हम चाहते हैं कि गुजरात की जनता कांग्रेस को वोट दे। सैफई में भगवान कृष्ण की विशालकाय मूर्ति के बारे में कहा कि पिछले डेढ़ साल से काम चल रहा है, और वे खुद चाहते हैं कि वहां श्री कृष्ण जी की मूर्ति लगे।


No comments:

Post a Comment

loading...